बुधवार, 13 फ़रवरी 2013

माँ शैलपुत्री शैल सम दे दृढ़ता विश्वास में

माँ शैलपुत्री शैल सम दे दृढ़ता विश्वास में
अभिग रहूँ माँ मोह के इस कुटिल माया पाश में

ब्रह्म चारिणी ब्रह्म का माँ आचरण दिन रैन हो
समदृष्टि हो सुविचार हो माँ आचरण के पात्र में

चंद्रघंटा माँ मेरे अंतर अनाहद ध्वनि जगा दे
नृत्य अरु संगीत मय  खग विहाग ज्यूँ आकाश  में

कुष्मांडका माँ तृप्त कर  सदज्ञान की हर प्यास को
ध्रुव तारे सा निखर जाऊं माँ  अमर हो इतिहास  में

स्कन्दमाता वात्सल्य  दाता माँ मुझे आशीष देना
छावं ममता की रहे  माँ हर डगर नूतन आश में

कात्यायनी वरदायिनी माँ शक्ति का संचार कर दे
____कर्म पथ पर निडर हो कर बढूँ इस संसार में

माँ काल रात्रि अभय दात्री अल्पमृत्यु विनाशिनी
संकट हरो माता मेरा कुटिल समय की त्राश में

महागौरी शिव प्रिया माँ ध्यान का विज्ञानं वर दे
सुमिरन रहे शिव शक्ति का माँ ह्रदय की हर स्वाश में

हे सिधिदात्री सिद्ध हो संकल्प मेरा कर्म पथ पर
श्रृष्टि के हित में रहूँ आगे बढूँ चहुँ  विकाश में ____ मनोज